इतिहास और संस्कृति

बौद्ध धर्म कहता है कि सब कुछ कारणों और स्थितियों के कारण उत्पन्न होता है, और धर्म कोई अपवाद नहीं है। जिन-जिन देशों में इसका प्रसार हुआ उन देशों ने इसके विकास के क्रम को प्रभावित किया, और कालांतर में बौद्धों और अनेक दूसरे धर्मों के लोगों के बीच वैचारिक आदान-प्रदान हुआ जिससे सभी पक्ष समृद्ध हुए। अब जब दुनिया भर में बौद्ध विचारों और पद्धतियों का प्रसार हो रहा है, तो लोग बौद्ध सिद्धांतों को जीवन के अनेक नए क्षेत्रों के अनुकूल ढाल रहे हैं।